गुजरात के वडोदरा में नाव में सवार अठारह लोगो की मौत : विपक्ष ने कहा हादसा नहीं मर्डर है यह

गुजरात के बड़ोदरा में नव हादसे में अठारह लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। आपको बता दें कि गुरुवार को हरनी नाम की झील में नव के पलटने से उसमे स्वर 12 स्टूडेंट और और 6 अध्यापक डूब गए। इससे उनकी मौत हो गयी। बताया जा रहा है की नव में ज्यादा मात्रा में लोग सवार हो गए थे जिस बजह से डूब गयी। घटना के समाय कुछ बच्चों ने लाइव जैकेट पहनी थी जबकि उनमे से अधिकतर बिना लाइव जैकेट के ही थे। हादसे में अठारह छात्रों और 2 अध्यापकों कि जान बचा ली गयी है । कुछ लोग इसे राजनीतिक घटना घोषित कर दिया है जिसमे बताया जा रहा है कि यह साजिश किया गया मर्डर है।

कांग्रेस नेता बड़ोदरा में हुए इस नव पलटने के कांड को राजनितिक षड्यंत्र बताया। कांग्रेस नेता अमी रावत का कहना है की इसे हम हत्या का कृत्य मान रहे हैं ये कोई दुर्घटना नहीं है। हमारी मांग ये है की इस घटना कि जाँच किसी सिटींग जज से करवाई जाये। यह पूरी तरह से लापरवाही है कि नाव में कोई लाइव जैकेट और सुरक्षा नहीं है।

अधिक पढ़ें : अशोक सिंघल के दादा थे अयोध्या के पहले कारसेवक

जिम्मेदार लोगों के खिलाफ करवाई कि जाएगी। साल 2016 ये परियोजना ठेकेदारों को आवंटित की गयी थी उस समय हमने आपत्ति जताई थी , यह वडोदरा के लिए बहुत ही दुखद घटना है। नाव की क्षमता चौदह लोगों की थी जबकि इसमें सताइस लोग बैठा दिए गए थे। और न ही किसी कैमरा का प्रबंध नहीं किया हुआ है। यहाँ का ठेकेरदार और नगर निगम के लोग इसमें शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *