कांग्रेस को लोकसभा चुनाव के लिए बताया जा रहा है असहाय

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने भाजपा पर जमकर हमला बोल दिया है । और 21 मार्च में हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, और पूर्व अध्यक्ष सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी ने भी भाजपा को अपने निशाने पर रखा। उनका आरोप है कि केंद्र सर्कार कांग्रेस को असहाय बोलकर फ्री और एक फेयर चुनाव की बात करती है।

खरगे ने इलेक्टोरल बॉन्ड और कांग्रेस के बैंक अकाउंट पर TAX विभाग की जाँच से संबंध को लेकर केंद्र सरकार को घेरा और उन्होंने कहा,

“सुप्रीम कोर्ट ने चुनावी बॉन्ड को गैर-कानूनी और असंवैधानिक करार दिया है। उस योजना के तहत मौजूदा सत्ताधारी पार्टी ने अपने खातों को करोड़ों-अरबों रुपये से भर लिया। जबकि दूसरी ओर साजिश के तहत मुख्य विपक्षी दल के बैंक खाते फ्रीज कर दिए गए हैं। ताकि पैसे के अभाव में चुनाव लड़ने में विपक्षी पार्टी को समान अवसर न मिले। यह सत्ताधारी दल का खतरनाक खेल है, अगर इस देश में लोकतंत्र को बचाना है, तो एक समान अवसर होना चाहिए। ”

“मैं ये नहीं बताना चाहता कि भाजपा ने कुछ कंपनियों से पैसे कैसे लिए? चूंकि, सुप्रीम कोर्ट इस मामले की जांच कर रहा है, मुझे उम्मीद है कि सच्चाई जल्द ही हमारे सामने होगी। मैं संवैधानिक संस्थाओं से अपील करता हूं कि अगर वे स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव चाहते हैं, तो उन्हें हमें अपने बैंक खातों का इस्तेमाल करने दें। स्वतंत्र रूप से हमारे पैसों को हम तक पहुंचने दिया जाए. कोई भी राजनीतिक दल आयकर के दायरे में नहीं आता। ”

इसी बात पर सोनिया गाँधी का भी बयान आया


“केंद्र की तरफ से ये कोशिश की जा रही है कि कांग्रेस को पंगु बना दिया जाए,ये लोकतंत्र पर हमला है। अगर कांग्रेस किसी भी तरह से चुनाव प्रचार में खर्च नहीं कर सके तो चुनाव किस बात का, पिछले एक महीने से हम हमारे 285 करोड़ का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं। अगर हम कोई काम नहीं कर सकते तो लोकतंत्र कैसे जिंदा रहेगा। ”

Read More: Click Here

आपको बता दें ECI की तरफ से हाल में जो डेटा बताया जा रहा है वह है जो भाजपा को चंदे के रूप में सबसे ज्यादा 6060 करोड़ रूपए मिले हैं जिससे उनका लिस्ट में दूसरा नाम TMC सरकार को चंदे के रूप में 1609 करोड़ रूपए मिले हैं और वहीँ कांग्रेस को 1422 करोड़ रूपए मिले हैं चौथे नंबर पर भारत राष्ट्र समिति है उन्हें 1214 करोड़ रूपए चुनावी बांड के हिसाब से दिए गए हैं और 5th नंबर पर आता है बीजू जनता दल जिनको 775 करोड़ रूपए मिले हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *