पाकिस्तान दे रहा मालदीव को आर्थिक मदद का आश्वासन

आपको जानकारी दें कि दीवालिया होने की कगार पर खड़ा पाकिस्तान अब चला मालदीव को आर्थिक मदद देने। खुद आर्थिक संकट से पाकिस्तान गुजर रहा इस पर उसने मालदीव के जख्मो पर मरहम लगाने की कोशिश की है। मालदीव विवाद पर भारत ने उनको आवंटित वित्तीय सहायता पर कटौती कर दी है । अंतरिम बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री सीतरमन ने कहा कि अब भारत मालदीव को सिर्फ 600 करोड़ की मदद देगा। इसी बात पर पाकिस्तान ने अब मालदीव को सहायता का आश्वासन दिया है। ये बात विचार करने योग्य है कि जो देश खुद अरब , चीन और कई देशों के आगे हाथ फैला रहा है वो अब मालदीव की वित्तीय सहायता करेगा।
क्या वो इस काबिल भी है कि मालदीव के मदद कर सकता है ? पर आप तो जानते ही हैं कि भारत के खिलाफ जाने के लिए तो यह देश कुछ भी करने को तैयार रहता है।

पाकिस्तान दे रहा आश्वासन

पाकिस्तान की कार्यवाहक सरकार के चीफ अनवर -उल -हक ने मालदीव के राष्ट्रपति मोइजु का फ़ोन किया था। दोनों की कुछ देर तक बातचीत हो रही थी जिसमे दोनों देश आपसी संबंधो को मजबूत करने के बारे में चर्चा कर रहे थे। सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने मालदीव को आर्थिक मदद का वादा किया है।

रीड मोर : ज्ञानवापी में देर रात तक हुई पूजा अर्चना

पाकिस्तान ने हिन्द महासागर क्षेत्र में जलवायु परिवर्तन को ध्यान में रखते हुए , मालदीव के द्वारा लिए गए सभी निर्णयों को सही बताया। मालदीव के राष्ट्रपति कार्यलय ने बताया की मालदीव और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय रिश्ते 26 जुलाई 1966 को बने थे। दोनों देश चीन के खास बताये जा रहे है। चीन , पाकिस्तान और मालदीव की आर्थिक मदद करता है । मोइजु ने राष्ट्रपति बनते ही भारत को मालदीव से सेना हटाने के लिए कहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *