पांच जिलों में बांटे गए लीक हुए पेपर

देशभर में रविवार को NEET-UG परीक्षा आयोजित की गई , नीट प्रश्नपत्र लीक होने की जानकारी सामने आने के बाद पटना के कई इलाकों में छापेमारी की गयी। पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। इसी तरह के एक मामले में एफआईआर भी दर्ज की गई थी। यह जानकारी पटना एसएसपी राजीव मिश्रा ने दी।

20 लाख रूपए खाकर बांटे प्रश्न पत्र


बताया जाता है कि प्रश्नपत्र रखने के लिए कई अभ्यर्थियों से दो-दो लाख रुपये वसूल कर पटना के विभिन्न लॉज में रखे गये थे। पुलिस ने सुबह कंकाल बाग इलाके का भी निरीक्षण किया और वहां पूछताछ के कागजात बरामद किये। गिरफ्तार लोगों से पूछताछ में यह बात सामने आयी कि कई जिलों में प्रश्नावली बांटी जा रही थी। बिहार के 35 जिलों में केंद्र बनाये गये हैं।

इस परीक्षा के लिए 23 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था।

इस वर्ष NEET UG के लिए रिकॉर्ड 2.3 मिलियन उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया, जिनमें 1 मिलियन से अधिक लड़के, 1.3 मिलियन से अधिक लड़कियां और 24 तीसरे लिंग के छात्र शामिल हैं। राज्य स्तर पर, उत्तर प्रदेश से अधिकतम 3,39,125 छात्र नामांकित हुए, इसके बाद महाराष्ट्र से 279,904 छात्र नामांकित हुए। राजस्थान से 1,96,139 छात्रों ने NEET UG 2024 के लिए पंजीकरण कराया है। दक्षिणी राज्यों में, तमिलनाडु से 155,216 आवेदकों और कर्नाटक से 154,210 आवेदकों ने पंजीकरण कराया है।

Read More: Click Here

बिहार से 103900 अभ्यर्थी


बिहार के मामले में, बिहार से 139,000 उम्मीदवार NEET-UG परीक्षा में उपस्थित हुए थे। टेस्ट में नकल के आरोप में पटना के कई इलाकों में छापेमारी हुई। रिपोर्ट्स के मुताबिक गिरफ्तार किए गए पांचों लोगों के कुछ दस्तावेज पुलिस को बरामद हुए हैं। पुलिस इन दस्तावेजों की जांच करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *